Lord Buddha Suvichar, Quotes and Anmol Vachan in Hindi and English

Lord Buddha suvichar in Hindi and English


Hatred does not cease by hatred, but only by love; this is the eternal rule.

अतीत पे धयान मत दो, भविष्य के बारे में मत सोचो, अपने मन को वर्तमान क्षण पे केन्द्रित करो.-भगवान गौतम बुद्ध

He who loves 50 people has 50 woes; he who loves no one has no woes. 

Health is the greatest gift, contentment the greatest wealth, faithfulness the best relationship.-Gautam Buddha

घृणा घृणा से नहीं प्रेम से ख़तम होती है, यह शाश्वत सत्य है. 

स्वस्थ्य सबसे बड़ा उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन है, वफ़ादारी सबसे बड़ा सम्बन्ध है.-भगवान गौतम बुद्ध

Do not overrate what you have received, nor envy others. He who envies others does not obtain peace of mind.

Just as a candle cannot burn without fire, men cannot live without a spiritual life.-Gautam Buddha

किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी और दुष्ट मित्र से  ज्यादा डरना चाहिए 

जैसे मोमबत्ती बिना आग के नहीं जल सकती , मनुष्य भी आध्यात्मिक जीवन के बिना नहीं जी सकता.-भगवान गौतम बुद्ध

आपके पास जो कुछ भी है  है उसे बढ़ा-चढ़ा कर मत बताइए, और ना ही दूसरों से इर्श्या कीजिये. 

Three things cannot be long hidden: the sun, the moon, and the truth.-Gautam Buddha
You will not be punished for your anger, you will be punished by your anger.

तीन चीजें जादा देर तक नहीं छुप सकती, सूरज, चंद्रमा और सत्य.-भगवान गौतम बुद्ध

An insincere and evil friend is more to be feared than a wild beast; a wild beast may wound your body, but an evil friend will wound your mind. 

Work out your own salvation. Do not depend on others.-Gautam Buddha
तुम अपने क्रोध के लिए दंड नहीं पाओगे, तुम अपने क्रोध द्वारा दंड पाओगे. 

अपने मोक्ष के लिए खुद ही प्रयत्न करें. दूसरों पर निर्भर ना रहे.-भगवान गौतम बुद्ध

No comments:

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...