Friday, March 1, 2013

Door tak jisaki najar-Geet aur Kavita-20


दूर तक जिसकी नज़र चुपचाप जाती ही नहीं  हम समझते हैं समीक्षा उसको आती ही नहीं  आपका पिंजरा है दाना आपका तो क्या हुआ आपके कहने से चिड़िया गुनगुनाती ही नहीं

Post a Comment

Featured post

A bucket milk | Life changing stories

A bucket milk - life changing stories Once plague spread in a king's kingdom. People started to die around. The king made a lot of m...