Note for you

"अगर आपके पास हिन्दी में अपना खुद का लिखा हुआ कोई Motivational लेख या सामान्य ज्ञान से संबंधित कोई साम्रगी जो आप हमारी बेबसाइट पर पब्लिश कराना चाहते है तो क्रपया हमें vinay991099singh@gmail.com पर अपने फोटो व नाम के साथ मेल करें ! पसंद आने पर उसे आपके नाम के साथ पब्लिश किया जायेगा ! "
क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये Site आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !  
Writers : - Indu Singh, Jyoti Singh & Vinay Singh

Search your topic...

Swami vivekanand suvichar-6

External natural is only internal nature writ large.
Us Vyakti Ne Amartatw Prapt Kar Liya Hai, Jo Kisi Sansarik Vastu Se Vyakul Nahi Hota. 
Yadi sway men vishwas karana aur adhik vistar se padaya
 Ham Wo Hai Jo Hamen Hamari Soch Ne Banaya Hai, Isliye Is Bat Ka Dhyan Rakhiye Ki Aap Kya Sochate Hai.
God is to be worshipped as the one beloved
Reactions:

0 Comments: