Saturday, June 8, 2019

Twinkle Sharma Main Nishabd Hoon

Gudia Main Nishabd Hoon

अलीगढ़ के टप्पल ब्लोक में रहने वाली 3 साल की मासूम बच्ची ट्विंकल शर्मा को कुछ दरिंदे लोगों ने बेरहमी के साथ कत्ल किया, उसके हाथ-पैर काटकर आंखे निकाल ली और मासूम के शव को फेंक दिया। जबसे यह खबर सुनी है तब में मैं बहुत ही दुखी हूं और निशब्द हूं कि क्या प्रतिक्रिया दूं। मुझे ऐसा लगता है कि कुछ लोग तो इंसान क्या जानवर कहलने के लायक भी नहीं है क्योंकि जानवर भी ऐसा नहीं करते। इन लोगों को जल्द से जल्द फांसी हो ताकि लोगों का विश्वास कानून व्यवस्था पर बना रहें।

Twinkle Sharma Main Nishabd Hoon


गुड़ियां मैं निशब्द हूं.....


मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं,
बेबस हूं, मजबूर हूं जो तेरे कतिल को अभी तक फांसी के तख्त तक पंहुचा न सका,
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

बेबस हूं, मजबूर हूं जो उन चंद लोगों को समझा न सका कि इसको धर्म की चश्मे से न देंखे। 
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

बेबस हूं, मजबूर हूं जो ऐसे देश में रहता हूं जहां की न्याय व्यवस्था कमजोर है।
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

बेबस हूं, मजबूर हूं इन मीडियां को देखकर जो तुम्हारी आवाज न बन सकी, जो तुम्हे इंसाफ न दिला सकी। 
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

बेबस हूं, मजबूर हूं जब इस खबर को सुना कि महज कुछ चंद नोट की टुकरों के खातिर वहशियों ने तुम्हे मार डाला।
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

बेबस हूं, मजबूर हूं जो कुछ नेताओं की राजनीति को समझ न सका, जिनको हमने वोट दिया।
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

बेबस हूं, मजबूर हूं उन लोगों को देखकर जो बात बात पर मोमबत्ती लेकर चले आते हैं लेकिन वहशियों को नहीं जलाते हैं।
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

एक बार वहशियों को जलाने की कोशिश तो करों मेरे भाई, फिर न कोई वहशी बचेगा और न कोई कातिल। 
मैं निशब्द हूं, निशब्द हूं, गुड़ियां मैं निशब्द हूं।।

✍️ Vinay Singh, Suvichar4u.com

गुड़ियां मैं निशब्द हूं.....
पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट
यह उस 2.5 वर्षीय बच्ची ट्विंकल शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट है जिसे रमज़ान में एक रोज़ेदार शांतिदूत मुहम्मद जाहिद ने बलात्कार कर मार दिया, उसकी आंखें नोचकर निकाल ली, उसके हाथ पैर काट दिए, उसके गुप्तांगों में चाकू से वार किये, उसका पेट फाड़ दिया, फिर उसके शव को कुत्तों के खाने के लिए फेंक दिया।

यह रिपोर्ट पढ़ने के बाद मुझे विश्वास नहीं हुआ कि कोई मनुष्य इतना विभत्स आचरण भी कर सकता है

जरा इस रिपोर्ट के उन अंशों पर एक दृष्टि डालिये जिन्हें मैंने हरे रंग से हाईलाइट किया है आपको भी उस शांतिदूत जाहिद द्वारा 2.5 वर्षीय ट्विंकल के संग किया गया पैशाचिक आचरण समझ आ जाएगा

⭕ बच्ची के शरीर मे छोटी व् बड़ी आंत मिली ही नहीं
⭕ बच्ची के शरीर मे किडनी मिली ही नही 
⭕ यूरिनरी ब्लैडर मिला ही नहीं
⭕ जेनिटल्स मिले ही नहीं 
⭕ बच्ची के शरीर मे आंखें थी ही नहीं
⭕ बच्ची के हाथ पैर उसकी हत्या से पूर्व काटे गए थे

रमज़ान के महीने में रोज़ेदार मुहम्मद जाहिद ने अपने हिन्दू पड़ोसी की 2.5 वर्षीय बच्ची का बलात्कर किया उसकी आंखें नोचकर निकाल दीं, उसके हाथ पैर काटे फिर उसके गुप्तांगों में चाकू घुसाकर फाड़ा और अपने हाथ से खींचकर उसकी आंतें व् यूरिनरी ब्लैडर व् वेजाइना बाहर निकाल दीं,
फिर बच्ची का पेट चाकू से काटा और उसकी किडनी बाहर निकालकर फेंक दी।
Justice For Twinkle

Twinkle Sharma murder case को लेकर कुछ फेमस हस्तियों के ट्वीट:














#JusticeForTwinkle #twinklesharma #Aligarh #RealFaceOfIslam #ReligionOfTerrorists #ReligionOfRapists #NoOutrage #NoPlaycards #Killed4BeingHindu

No comments:

Featured post

Pulkit Thi, Praphoolit Thi - Meri Gudiya, Twinkle Sharma

Pulkit Thi, Praphoolit Thi, Main To Hansti Khelit Ek Phool ki Kali Thi पुलकित थी, प्रफुल्ल थी, मैं तो हंसती खेलती एक फूल की कली थी। ...