Lord Mahavir suvichar-1


The greatest mistake of a soul is non-recognition of its real self and can only be corrected by recognizing itself.
किसी आत्मा की सबसे बड़ी गलती अपने असल रूप को ना पहचानना है , और यह केवल आत्म ज्ञान प्राप्त कर के ठीक की जा सकती है
Silence and Self-control is non-violence. शांति और आत्म-नियंत्रण अहिंसा है  .

Comments

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...