Lehron Se Darkar Nauka Paar Nahi Hoti - ✍️ Sohanlal Dwivedi

लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती

✍️ सोहन लाल द्विवेदी


लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती!

नन्ही चीटी जब दाना लेकर चलती है,
चढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती है,
मन का विश्वाश रगों मे साहस भरता है,
चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता है,
आखिर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती,
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती!

डुबकियां सिन्धु में गोताखोर लगाता है,
जा जा कर खाली हाथ लौटकर आता है,
मिलते नहीं सहज ही मोंती गहरे पानी में,
बढ़ता दुगना उत्साह इसी हैरानी में,
मुट्ठी उसकी खाली हर बार नहीं होती,
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती!

असफलता एक चुनौती है , इसे स्वीकार करो ,
क्या कमी रह गई, देखो और सुधार करो .
जब तक ना सफल हो , नींद चैन को त्यागो तुम ,
संघर्ष का मैदान छोड़कर मत भागो तुम,
कुछ किए बिना ही जय जयकार नहीं होती,
कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती!

✍️ सोहन लाल द्विवेदी | सुविचार इन हिंदी (Suvichar in Hindi)

Leharon Se Darkar Nauka Par Nahi Hoti


Leharon Se Darkar Nauka Par Nahi Hoti,
Koshish Karne Walon Ki Kabhi Haar nahi Hoti!

Nanhi Chiti Jab Dana Lekar Chalati Hai,
Chadati Diwaron Par, Sau Bar Phisalati hai,
Man Ka Vishwash Ragon Men Sahas Bharta hai,
Chadakar Girna, Girkar Chadana N Akharata hai,
Aakhir Uski Mehanat Bekar Nahi Hoti,
Koshish Karne Walon Ki Kabhi Haar nahi Hoti!

Dubkiya Sindhu Men GotaKhor Lagata hai,
Ja Ja Kar Khali Haath Lautkar Aata hai,
Milte Nahi Sahaj Hi Moti Gahare Paani Men,
Badata Doguna Utsah Isi Hairani Men,
Mutthi Uski Khali Har Baar Nahi Hoti,
Koshish Karne Walon Ki Kabhi Haar Nahi Hoti!

Asaphalata Ek Chunauti hai, Ise Swikar Karon,
Kya Kami Rah Gayee, Dekho Aur Sudhar Karon,
Jab Tak Na Sphal Ho, Nind Chain Ko Tyago Tum,
Sangharsh Ka Maidan Chhodakar Mat Bhago Tum,
Kuchh Kiye Bina Hi Jay Jaykar Nahi Hoti,
Koshish Karne Walon Ki Kabhi Haar Nahi Hoti!

✍️ Sohanlal Dwivedi(Suvichar in Hindi)

Sohanlal Dwivedi Poem, Quotes and Suvichar

Comments

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...