Saturday, December 8, 2018

What is Vastu Shastra? | वास्तु शास्त्र

वास्तु शास्त्र 

वस्तु शास्त्र की जानकारी

वास्तु शास्त्र से धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष की प्राप्ति- वास्तु शास्त्र ज्ञान-विज्ञान व क्रियात्मक कार्य की वह विद्या है जो मानव को सुख शांति व समृद्धता प्रदान करने के साथ-साथ, जीवत्मा के चारों पुरूषार्थ धर्म, अर्थ, काम व मोक्ष को प्राप्त करने में सहयोग प्रदान करती है। 
Vastu Shastra in Hindi

धर्म-     धारियति इति धर्मः अर्थात जीवन के किसी भी क्षेत्र में जो भी अच्छा धारण करने योग्य है वह धर्म है।
अर्थ- धर्मानुसार अर्थ की प्राप्ति ही मनुष्य का लक्ष्य होना चाहिए।
काम- धर्म का अनुसरण करते हुए अर्थ की प्राप्ति के बाद अपनी कामनाओं की पूर्ति करना ही काम है।
मोक्ष- जब मनुष्य धर्मानुसार अर्थ व काम की प्राप्ति कर लेता है तब उसे परम शांति मोक्ष प्राप्त करने का हर संभव प्रयत्न करना चाहिए।
चतुर्वर्ग फल प्राप्तिस्सललोकश्च भवेद ध्रुवम्।
शिल्य शास्त्र परिज्ञानान्मर्त्योऽपि सुरतां ब्रजेत।।
अर्थात शिल्प शास्त्र के सम्पूर्ण ज्ञान से मानव के चारों परम पुरूषार्थ धर्म, अर्थ, काम एवं मोक्ष की प्राप्ति हो जाती है। यह ध्रुव की तरह अटल सत्य है। 

वास्तु शास्त्र की सम्पूर्ण जानकारियां

  1. वास्तु शास्त्र
  2. घर की सजावट – सरल वास्तु शास्त्र
  3. सरल वास्तु शास्त्र – वास्तु शास्त्र के अनुसार घर
  4. वास्तु शास्त्र के अनुसार बच्चों का कमरा
  5. व्यावसायिक सफलता के लिए वास्तु शास्त्र
  6. वैदिक वास्तु शास्त्र
  7. विभिन्न स्थान हेतु वास्तु शास्त्र के नियम एवं निदान
  8. अंक एवं यंत्र वास्तु शास्त्र
  9. वास्तु शास्त्र के प्रमुख सिद्धान्त
  10. वास्तु शास्त्र के आधारभूत नियम
  11. घर, ऑफिस, धन, शिक्षा, स्वास्थ्य, संबंध और शादी के लिए वास्तु शास्त्र टिप्स
  12. जाने घर का सम्पूर्ण वास्तु शास्त्र, वास्तु शास्त्र ज्ञान और टिप्स
  13. मकान के वास्तु टिप्स – मकान के अंदर वनस्पति वास्तुशास्त्र
  14. वास्तुशास्त्र का विज्ञान से संबंध
  15. वास्तुशास्त्र के सम्पूर्ण नियम और जानकारियां
  16. जीवन और वास्तुशास्त्र का संबंध
  17. मकान को बनाने के लिए वास्तु टिप्स और सुझाव
  18. कैसे दूर करें, जमीन वास्तु दोष
  19. भवनों के लिए वास्तुकला
  20. अनिष्ट ग्रहों की शांति के लिए वास्तु टिप्स
  21. वैदिक वास्तुकला के सिद्धान्त और उसकी जानकारियां
  22. भारतीय ज्योतिष शास्त्र
  23. हिन्दू धर्म में गृहस्थ जीवन और धर्मशास्त्र महत्व
  24. भारतीय रीति-रिवाज तथा धर्मशास्त्र
  25. वास्तु का व्यक्ति के जीवन पर प्रभाव
  26. घरेलू उद्योग व औद्योगिक संरचनाएं समाज की उन्नति के लिये क्यों आवश्यक है?
  27. विभिन्न प्रकार की भूमि पर मकानों का निर्माण करवाना
  28. मांगलिक की पहचान
  29. युग तथा वैदिक धर्म
  30. हिन्दू पंचांग अथार्त हिन्दू कैलेंडर क्या है?
  31. जन्मपत्री से जानिये जनम कुन्डली का ज्ञान

2 comments:

SubhaVaastu said...

Thanks for writing such a good article, I stumbled onto your blog and read a few post. I like your style of writing... Vastu consultant in Hyderabad

SubhaVaastu said...

nice information for a new blogger…it is really helpfulVastu consultant in Hyderabad

Sponsor


Featured Post

Do not use facemask everywhere, as it can be dangerous