Note for you

"अगर आपके पास हिन्दी में अपना खुद का लिखा हुआ कोई Motivational लेख या सामान्य ज्ञान से संबंधित कोई साम्रगी जो आप हमारी बेबसाइट पर पब्लिश कराना चाहते है तो क्रपया हमें vinay991099singh@gmail.com पर अपने फोटो व नाम के साथ मेल करें ! पसंद आने पर उसे आपके नाम के साथ पब्लिश किया जायेगा ! "
क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये Site आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !  
Writers : - Indu Singh, Jyoti Singh & Vinay Singh

Search your topic...

Happy Navaratri 2015 - Dashara aur Navaratri

नवरात्रि 2015

Maa Durga ke Nava Roop Navaratri Men


Maa Durga ke Nava Roop Navaratri Men - Happy Navaratara 2015
मार्कण्डेय पुराण (Puran) में ब्रह्माजी (Bramha Ji) ने मनुष्यों के रक्षार्थ (Raksharth) परमगोपनीय साधन, कल्याणकारी देवी (Kalyankari Devi)  कवच एवं परम पवित्र (Pavitra) उपाय संपूर्ण (Samproon) प्राणियों को बताया, जो देवी की नौ स्वरूप हैं, जिन्हें 'नवदुर्गा' (Nav Durga) कहा जाता है। उनकी आराधना (Aaradhana) प्रतिपदा से महानवमी (Mahanavami) तक की जाती है।

श्री दुर्गा (Shree) के निम्न मंत्र धर्म (Mantra Dharma), अर्थ (Artha), काम (Kaam) एवं मोक्ष (Moksh) चारों पुरुषार्थों को प्रदान करने में सक्षम (Saksham) है। इन मंत्रों को पढ़ने से सभी मनोकामना पूर्ण होती है।

श्री दुर्गा मन्त्र - Shre Durga Mantra

नतेभ्य: सर्वदा भक्त्या चण्डिके दुरितापहे।
रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषो जहि।।


Natembhya Sarwada Bhaktya Chandike Duritapahe
Roop Dehi Jany Dehi Yasho Dehi Dvisho jahi.


ॐ ग्लौं हुं क्लीं जूं सः ज्वालय ज्वालय ज्वल ज्वल प्रज्ज्वल प्रज्ज्वल
ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे ज्वल हं सं लं क्षं फट्‍ स्वाहा
॥॥
Om Gnau Hun Kalin San Jwalay Jwalay Jwal Jwal Prajjwal Prajjwal
Ain Hin Kalin Chamundayae Vichche Jwal Han San Lan Kshan Phat Swah.





Durga Mata Ke Vandana ke liye Slok aur Mantra jis padane se sabhi manakamnaye puri hoti hai.

नमस्ते रुद्ररूपिण्यै नमस्ते मधुमर्दिनी ।
नमः कैटभहारिण्यै नमस्ते महिषार्दिनी
॥॥
Namste Roodraropinayae Namaste Madhumardani.
Namah Kaitbharinayae Namaste Mahishradani.

नमस्ते शुम्भहन्त्रयै च निशुम्भासुरघातिनी ।
जाग्रतं हि महादेवि जपं सिद्धं कुरुष्व मे
॥॥
Namste Shumbhahantrayae Cha Nishumbhasuraghatini.
Jagratn Hi Mahadevi Janp Sindh Kurushv Men.


ऐंकारी सृष्टिरुपायै ह्रींकारी प्रतिपालिका ।
क्लींकारी कामरूपिण्यै बीजरूपे नमोऽस्तु ते
॥॥
Ainkari Srishtiroopayae Hinkari Pratipalika
Kalnikari Kaamropinayae Bijroope Namostu te.

    
चामुण्डा चण्डघाती च यैकारी वरदायिनी ।
विच्चे चाभयदा नित्यं नमस्ते मन्त्ररूपिणी
॥॥
Chamunda Chandghati Ch Ayekari Vardayani
Vichche Chabhyada Nityan Namste Mantraroopini

 
धां धीं धूं धूर्जटेः पत्नी वां वीं वूं वागधीश्वरी ।
क्रां क्रीं  क्रूं कालिकादेवि शां शीं शूं मे   शुभं कुरु ॥॥

Dhan Dhin Dhoon Dhorjaten Patni Van Vin Voon Vagdhishwari
Kran Krin Kroon Kalikadevi Shan Shin Shoon Men Shunbh Karu.


 Happy Navaratri 2015 - In dino durga mata ke navo roop ki vandana ki jati hai aur puja ki jati hai. Prem se blolo jai mata di
Reactions:

0 Comments: