Note for you

"अगर आपके पास हिन्दी में अपना खुद का लिखा हुआ कोई Motivational लेख या सामान्य ज्ञान से संबंधित कोई साम्रगी जो आप हमारी बेबसाइट पर पब्लिश कराना चाहते है तो क्रपया हमें vinay991099singh@gmail.com पर अपने फोटो व नाम के साथ मेल करें ! पसंद आने पर उसे आपके नाम के साथ पब्लिश किया जायेगा ! "
क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये Site आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !  
Writers : - Indu Singh, Jyoti Singh & Vinay Singh

Search your topic...

Lord Buddha Suvichar-3



हजारों खोखले शब्दों से अच्छा वह एक शब्द है जो शांति लाये.
वह जो पचास लोगों से प्रेम करता है उसके पचास संकट हैं, वो  जो किसी से प्रेम नहीं करता उसके एक भी संकट नहीं है.-भगवान गौतम बुद्ध
सभी बुरे कार्य  मन के कारण उत्पन्न होते हैं. अगर मन परिवर्तित हो जाये तो क्या अनैतिक कार्य रह सकते हैं? 
Holding on to anger is like grasping a hot coal with the intent of throwing it at someone else; you are the one who gets burned.-Gautam Buddha-Gautam Buddha
All wrong-doing arises because of mind. If mind is transformed can wrong-doing remain? 
क्रोध को पाले रखना गर्म कोयले को किसी और पर फेंकने की नीयत से पकडे रहने के सामान है; इसमें आप ही जलते हैं.-भगवान गौतम बुद्ध
Suvichar4u-More Pages
1    2     3    4    5    6    7    8    9    10    Next
     Lord Krishna  | Lord Buddha  | Swami Vivekanand   |  Chanakya
    Friends   |  Sai Baba    |   Aristotle    |   APJ Abdul Kalam
    Hindi suvichar   |  Bhakti    |   Success    |  Amrit Vani
Reactions:

0 Comments: