Note for you

"अगर आपके पास हिन्दी में अपना खुद का लिखा हुआ कोई Motivational लेख या सामान्य ज्ञान से संबंधित कोई साम्रगी जो आप हमारी बेबसाइट पर पब्लिश कराना चाहते है तो क्रपया हमें vinay991099singh@gmail.com पर अपने फोटो व नाम के साथ मेल करें ! पसंद आने पर उसे आपके नाम के साथ पब्लिश किया जायेगा ! "
क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये Site आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !  
Writers : - Indu Singh, Jyoti Singh & Vinay Singh

Search your topic...

Chanakya Suvichar-8



We should not fret for what is past, nor should we be anxious about the future; men of discernment deal only with the present moment.
पहले पाच सालों में अपने बच्चे को बड़े प्यार से रखिये . अगले पांच साल उन्हें डांट-डपट के रखिये. जब वह सोलह साल का हो जाये तो उसके साथ एक मित्र की तरह व्यव्हार करिए.आपके  व्यस्क बच्चे ही आपके सबसे अच्छे मित्र हैं.-चाणक्य
There is some self-interest behind every friendship. There is no friendship without self-interests. This is a bitter truth. 
The fragrance of flowers spreads only in the direction of the wind. But the goodness of a person spreads in all direction.-Chanakya
हमें भूत के बारे में पछतावा नहीं करना चाहिए, ना ही भविष्य के बारे में चिंतित होना चाहिए ; विवेकवान व्यक्ति हमेशा वर्तमान में जीते हैं. 
फूलों की सुगंध केवल वायु की दिशा में फैलती  है. लेकिन एक व्यक्ति की अच्छाई हर दिशा में फैलती है.-चाणक्य
     Mahtma Gandhi  | Lord Buddha | Swami Vivekanand   |  Chanakya
    Friends Quotes   |  Sai Baba    |  Aristotle   |   APJ Abdul Kalam
    Hindi suvichar  |  English Quotes    |  Success Quotes    |  Amrit Vani
    Love Quotes  |  Facebook Imges   |   Fastival Quotes   Kavita
    Lord Mahavir   |  Gita Quotes    |  Lord Krishna   |  Great Thought
    Ambani  |  Atal bihari Vajpayee    |   Nature Quotes   |  Beauty Qutes
    Saty Vachan  |  Tulsi Das    |  Kabir Amrit Vani   |  Bhakti Sagar
    Gru Nanak Dev  |  Chacha Neharu    |  Indra Gandhi  |  Ras Lila
    1       3    4    5    6       8    9    10    
Reactions:

0 Comments: